मुख्यमंत्री नितीश कुमार ने एक चुनावी सभा को सम्बोधित करते हुए कहा बिहार का ऐतिहासिक गौरव रहा है हम उस गौरव को दोबारा लौटाएंगे

बिहार बिधानसभा चुनाव प्रचार के लिए सभी पार्टियों ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। एक तरफ तेजस्वी यादव ने कमान संभाल ली है तो दूसरी तरफ बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार ने। नितीश कुमार लगातार राज्यभर में चुनावी सभाएं कर रहे हैं और लोगों से एक बार फिर समर्थन मांग रहे है। ताकि उन्हें फिर से राज्य की जनता की सेवा करने का मौका मिले।

SHEIN Many GEO's

बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार ने एक चुनावी सभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि जो काम नहीं करना चाहता, जिसको विकास से कोई मतलब नहीं, वो आज मेरे बारे में अनाप-शनाप बोलकर अपना प्रचार करते हैं; करते रहें, लेकिन उससे पहले देखें, कि उन्होंने क्या किया था? उन्होंने कहा कि लोग सिर्फ वोट लेते थे, उन्हें किसी वर्ग के विकास की चिंता नहीं थी। सामूहिक नरसंहार होते थे, सुरक्षा खत्म हो चुकी थी। हमारे आते ही सबसे पहले कानून राज लाने का काम किया। अपराध के मामलों में कमी आई है कि इतनी बड़ी आबादी के बावजूद अपराध के मामलों में हम 23वें नम्बर पर है।

नितीश कुमार ने कहा कि बापू कहते थे ये धरती लोगों की जरूरतें पूरी करने में सक्षम है, उनके लालच के लिए नहीं। ये बात हमने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी कही और हमारी इस योजना की तारीफ देश-विदेश में हर जगह हो रही है। उन्होंने कहा कि उनके राज में बिजली का स्तर पहले से और ज्यादा गिर गया था बढ़ना तो दूर। हमने निश्चय लिया हर घर तक बिजली पहुंचाएंगे और तय समय से पहले हमने करके दिखा दिया।

नितीश कुमार ने कहा कि हम तो हर क्षेत्र में काम कर रहे हैं सड़क बनवा दिए हैं, 7 निश्चय में कई काम किया है। स्टूडेंट्स के लिए स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड की सुविधा दी। जो नौकरी का इक्छुक है उसे तैयारी के लिए भत्ता दिया। युवाओं को नौकरी योग्य तैयार करने के लिए कुशल युवा प्रोग्राम चलाया। उन्होंने कहा कि आगे मौका मिलेगा तो युवाओं को और ज्यादा प्रशिक्षण देंगे, टेक्नोलॉजी बढ़ रही है, उसका प्रशिक्षण देंगे। अपना राज्य किसी पर निर्भर न रहे इसके लिए युवाओं को तैयार करेंगे।

नितीश कुमार ने कहा कि हरेक गांव-घर में बिजली पहुंचाने के बाद अब हर गांव को सोलर लाइट से रोशन किया जाएगा। ऐसी व्यवस्था की जाएगी गांवो में ताकि लोगों के साथ-साथ उनके मवेशियों को भी उनके दरवाजे तक स्वास्थ्य लाभ मिले। नई तकनीक का सहारा लिया जाएगा सभी अस्पतालों को एक दूसरे से बेहतर कनेक्टिविटी प्रदान करेंगे। उन्होंने कहा कि अगर अगले 5 साल फिर मौका मिला, तो बिहार बहुत आगे पहुंच जाएगा। एक विकसित राज्य बन जायेगा। बिहार का ऐतिहासिक गौरव रहा है, हम उस गौरव को दोबारा लौटाएंगे।